इच्छुक NHM संविदा कर्मियों को पूर्व की तरह गृह जनपदों में स्थानांतरण की मांग, स्थानांतरण शुरू न होने पर आन्दोलन की चेतावनी 

लखनऊ: एनएचएम में तैनात इच्छुक संविदा कर्मियों को 2012 की तरह एकल के तहत ही गृह जनपदों में स्थानांतरण कराने की मांग की गयी है। संयुक्त राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कर्मचारी संघ ने निदेशक को पत्र लिखकर रिक्त पदों अथवा गृहजनपदों में स्थानांतरण शुरू नहीं होने पर आन्दोलन की चेतावनी दी है। संगठन का कहना है कि अल्पवेतन एवं मानसिक उत्पीडऩ को देखते हुए विवश होकर आन्दोलन के लिए बाध्य होना पड़ेगा। कर्मचारी संघ महामंत्री योगेश उपाध्याय ने पत्र के माध्यम से एनएचएम निदेशक से 18.08.21 के पारस्परिक पुर्ननियुक्ति के लिए समस्त जनपद को निर्देशित स्थानांतरण का लाभ लेने वाले इच्छुक कर्मियों के बीच बनी भ्रम की स्थिति को स्पष्ट करने का अनुरोध किया है। महामंत्री ने बताया कि पारस्परिक पुर्ननियुक्ति के पश्चात कर्मियों की वरिष्ठता शून्य हो जायेगी। जिससे कर्मचारी भविष्य में वरिष्ठता के आधार पर मिलने वाले लायलिटी बोनस समेत अन्य भविष्य की योजनाओं के लाभ से वंचित हो जाएंगे।  महामंत्री योगेश उपाध्याय ने पत्र के माध्यम से बताया कि पारस्परिक स्थानांतरण से मात्र कुछ प्रतिशत कर्मचारी ही लाभान्वित हो रहे हैं। यदि रिक्त पदों या विशेष परिस्थिति में स्थानांतरण में कठिनाई अथवा कोई व्यवधान है तो वर्ष 2012 की भांति इच्छुक कर्मियों का एकल स्थानांतरण उनके गृह जनपद में कर दिया जाये। जिससे कर्मचारी गृह जनपद मे अल्पवेतन पर जीवन यापन कर सके। आयुष फार्मासिस्ट संघ उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष अम्मार जाफऱी ने बताया कि विभिन्न कैडर में अनेकों एवं सृजित पदों की संख्या कम होने के कारण पारस्परिक पुन:नियुक्ति(म्यूचयल स्थानांतरण) के लिए समान्तर साथी नही मिल रहा है। जिससे म्यूचयल का लाभ उनके जैसे अनेकों कैडर को नही मिल रहा। उन्होंने कहा कि रिक्त पदों अथवा गृहजनपद स्थानांतरण शुरू नहीं हुआ तो अल्पवेतन एवं मानसिक उत्पीडऩ को देखते हुए संगठन विवश होकर आन्दोलन के लिए बाध्य होगा।

Simple GST Billing

Package: Easy to Maintain GST Billing Developed By Easy Enterprises Contact:6394392122,9415804025

Most Populars