वाराणसी में आरक्षण के मुद्दे पर निषादों का हंगामा, शांति भंग में मुकदमा दर्ज, कुंवर सिंह निषाद समेत 10 का चालान 

लखनऊ: निषाद कश्यप समाज को अनुसूचित जाति के आरक्षण की मांग को लेकर पूरे प्रदेश में पदयात्रा निकाल रहे कुंवर सिंह निषाद को वाराणसी में गिरफ्तार किया गया है। निषाद समेत10 लोगों का शांतिभंग में चालान किया गया। सर्वदलीय निषाद कश्यप यूनियन के बैनर तले 11 जुलाई को मथुरा से पदयात्रा को आगाज किया था। इससे पूर्व &0 जुलाई को जौनपुर के सद्भावना पुल पर भी निषाद आंदोलनकारियों और पुलिस के बीच जमकर टकराव हुआ था। पदयात्रा मथुरा से चलकर, आगरा, फिरोजाबाद, इटावा, औरैया, कानपुर, कानपुर देहात, जालौन, बांदा, महोबा, चित्रकूट, फतेहपुर, कौशाम्बी, इलाहाबाद, मिर्जापुर, भदोही, जौनपुर में सम्पन्न होकर शनिवार को वाराणसी पहुंची थी। यहां अस्सी पर एक सभा को संबोधित करने के बाद पदयात्रा मदनमोहन मालवीय मार्ग होते हुए दशाश्वमेध घाट की ओर रवाना हुई। जहां गांधी आश्रम खादी भंडार के समीप भेलूपुर थाना पुलिस द्वारा भारी पुलिस बल के साथ पदयात्रा को रोका गया। जिसपर आंदोलनकारी निषाद कश्यप समाज के लोगों और पुलिस के बीच जमकर झड़प हुई। आंदोलन का नेतृत्व कर रहे कुंवर सिंह निषाद सहित 10 लोगों को हिरासत में लिया गया। सभी का शांति में भंग में चालान किया गया है।इससे पूर्व 30 जुलाई को जौनपुर के सद्भावना पुल पर भी निषाद आंदोलनकारियों और पुलिस के बीच जमकर टकराव हुआ था। मेडिकल कराते समय कुंवर सिंह निषाद ने अपने एक कान से सुनाई नहीं देने और पसलियों में दर्द की शिकायत की है। उन्होंने पुलिस पर थाने में बंद कर बेरहमी से मारपीट करने का भी आरोप लगाया है।

Simple GST Billing

Package: Easy to Maintain GST Billing Developed By Easy Enterprises Contact:6394392122,9415804025

Most Populars